July 25, 2024 4:07 AM

शादीशुदा प्रेमिका को नहीं हो रहे थे बच्चे, प्रेमी ने उसके लिए 18 महीने की बच्ची को किया किडनैप

रतलाम। रतलाम जिले के बाजना पुलिस थाना क्षेत्र के ग्राम हेवड़ादामा खुर्द से 18 माह की बालिका का अपहरण करने के मुख्य आरोपित लोकेश जाट व उसके साथी अर्जुन व गौतम को पुलिस ने रविवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से तीनों को जेल भेज दिया। पुलिस के अनुसार पूछताछ में पता चला कि आरोपित लोकेश जाट ने निसंतान विवाहित प्रेमिका को बच्चा देने के लिए बालिका का अपहरण किया था। हालांकि इस बयान से पुलिस संतुष्ट नहीं है। रतलाम एसपी राहुल लोढ़ा ने बताया कि जांच में आगे के तथ्य निकालने के प्रयास किए जा रहे हैं।

बता दें कि संगीता दामा पत्नी बालचंद दामा निवासी ग्राम हेवड़ादामा खुर्द शनिवार दोपहर करीब तीन बजे अपनी 18 माह की बेटी अर्पिता को लेकर घर से कुछ दूर स्थित हैंडपंप पर कपड़े धोने गई थी। इस दौरान आरोपित 25 वर्षीय लोकेश जाट पुत्र महेंद्र जाट व 22 वर्षीय अर्जुन पुत्र कैलाश दोनों निवासी नामली तथा 21 वर्षीय गौतम झोड़िया पुत्र लक्ष्मण झोड़िया निवासी ग्राम कागलीखोरा थाना बाजना कार लेकर हैंडपंप के पास पहुंचे थे।

बोतल में पानी भरने के बहाने एक आरोपित हैंडपंप के पास पहुंचा था और अर्पिता को उठाकर कार में बैठा लिया था। इसके बाद तीनों बालिका को लेकर कार तेजी से चलाते हुए भाग निकले थे। संगीता के पति बालचंद व साथी प्रकाश ने कार का बाइक से पीछा किया था।

सूचना पर पुलिस भी आरोपितों के पीछे लग गई थी। गढ़खंखई माताजी के पास कुछ लोगों ने कार रोकने का प्रयास किया था। इसके बाद पुलिस व लोगों को पीछा करते देख एक जगह वे बालिका को उतारकर शिवगढ़ की तरफ भागे थे। शिवगढ़ में पुलिस ने नाकाबंदी कर कार रुकवाई थी। वहां भीड़ ने आरोपितों को बाहर निकालकर पिटाई भी कर दी थी।

jtvbharat
Author: jtvbharat